जदयू नेता सह विधायक गुलाम रसूल बलियावी ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि बिहार में नरेंद्र मोदी के चेहरे पर नहीं, बल्कि हमारे नेता नीतीश कुमार के चेहरे पर वोट मिल रहा है। उन्होंने एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि अगर एनडीए को सरकार बनानी है तो नीतीश कुमार को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाना होगा, तभी एनडीए की सरकार बनेगी। बलियावी के इस बयान के बाद बिहार की सियासत में खलबली मची हैफ भाजपा विधायक नितिन नवीन ने जहां बलियावी पर पलटवार किया है, वहीं हम पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष व पूर्व मुख्‍यमंत्री जीतनराम मांझी ने इस पर चुटकी ली है। 

बलियावी ने कहा है कि बिहार में नरेंद्र मोदी के चेहरे पर नहीं, बल्कि नीतीश कुमार के चेहरे और काम पर वोट मिल रहा है। यही नहीं बलियावी ने यह भी कह दिया कि 23 मई के बाद एनडीए को पूर्ण बहुमत नहीं मिल सकती है और अगर एनडीए को सरकार बनानी है तो नीतीश कुमार को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाना होगा, तभी एनडीए की सरकार बनेगी।

गुलाम रसूल बलियावी का ये बयान उस वक्त आया है, जब बिहार में लोकसभा चुनाव के दो चरण का चुनाव होना बाक़ी है और ठीक छठे चरण के चुनाव से पहले जेडीयू नेता के इस बड़े बयान ने बिहार की सियासत को गरमा दिया है।  

भाजपा ने दिया करारा जवाब, लगाया आरोप

जदयू नेता के इस बड़े बयान के बाद बीजेपी ने पलटवार करते हुए दूसरे दल से मिले होने का आरोप लगाया है।भाजपा नेता और विधायक नितिन नवीन ने कहा कि आज सीएम नीतीश सहित सभी नेता मोदी को पीएम बनाने की बात कर रहे हैं, ऐसे में बलियावी का यह अलग राग अपनाना कई इशारे करता है।

उन्होंने कहा कि जो लोग खाये यहां का और गाएं कहीं और का, ऐसा तो नहीं चलेगा। अगर कहीं और जाने की उनकी इच्छा है तो उन्हें स्पष्ट कहना चाहिए। नवीन ने कहा कि दिल्ली में मोदी को पीएम बनाने के लिए हर कोई लगा हुआ है। उन्होंने ये भी कहा कि ये बलियावी की अपने दिमाग की उपज है। नीतीश कुमार को इससे कोई लेना-देना नहीं होगा।

वहीं भाजपा नेता प्रेम रंजन पटेल ने कहा कि ये तो कोई पार्टी नहीं कर सकती कि पीएम नरेंद्र मोदी के अलावे कोई और हो। एनडीए मोदी के चेहरे पर चुनाव लड़ा है। किसका चेहरा कितना सुंदर, कितना खूबसूरत है नहीं पता। बेशक, नीतीश कुमार बिहार में नेता हैं, लेकिन पीएम तो मोदी ही हैं। 

विपक्ष ने ली चुटकी 
ग़ुलाम रसूल बालीयावी के बयान पर पूर्व CM जीतन राम मांझी ने चुटकी ली है। उन्‍होंने तंज कसते हुए कहा कि अब भाजपा ही बताए कि उनके गठबंधन में कौन प्रधानमंत्री पद का चेहरा है। नीतीश कुमार भाजपा की पीठ पर छुरा घोंपने को तैयार हैं। उन्‍होंने कहा कि नरेंद्र मोदी की थाली छिनने वाले अब प्रधानमंत्री पद की कुर्सी पर क़ब्ज़ा करना चाहते हैं। नीतीश ने जानबूझ के बलियावी से ऐसा बयान दिलवाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here