बोला सऊदी अरब युद्ध नहीं चाहते लेकिन खुद की रक्षा करेंगे

0
105

सऊदी अरब के विदेश राज्य मंत्री ने चिर प्रतिद्वंद्वी ईरान के साथ तनाव बढ़ने के बीच कहा है कि उनका देश युद्ध नहीं चाहता लेकिन अपनी रक्षा करेगा। सऊदी अरब के विदेश मामलों के राज्य मंत्री अदेल अल-जुबेर ने रविवार (19 मई) तड़के यह बयान दिया। उनका यह बयान ऐसे वक्त आया है जब एक सप्ताह पहले संयुक्त अरब अमीरात के तट पर तेल के चार टैंकरों को कथित तौर पर निशाना बनाया गया और ईरान समर्थित यमन के बागियों ने सऊदी अरब की तेल की पाइपाइन पर ड्रोन हमले का दावा किया था।

सऊदी अरब ने पाइपलाइन पर हमले के लिए ईरान को जिम्मेदार ठहराया है। खाड़ी अधिकारियों ने बताया कि टैंकर की घटना की जांच चल रही है। अल जुबेर ने पत्रकारों से कहा, ”हम क्षेत्र में शांति और स्थिरता चाहते हैं लेकिन हम हाथ बांधे खड़े नहीं रह सकते।” प्रमुख तेल उत्पादक देशों के मंत्रियों का मंगलवार (21 मई) को सऊदी अरब में मुलाकात का कार्यक्रम है।

गौरतलब है कि सऊदी अरब ने खाड़ी में बढ़ते तनाव के बीच सोमवार (13 मई) को कहा था कि संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के तट के पास उसके दो तेल टैंकरों को नुकसान पहुंचाया गया है। इससे पहले यूएई ने कहा था कि उसके चार जहाजों को नुकसान पहुंचाया गया है। सऊदी प्रेस एजेंसी (एसपीए) के अनुसार, सऊदी अरब के ऊर्जा मंत्री खालिद अल-फलीह ने कहा कि फुजैरा के तट के पास 12 मई को दो सऊदी तेल टैंकरों को नुकसान पहुंचाया गया। इनमें से एक रास तनुरा के बंदरगाह से सऊदी कच्चे तेल के साथ अमेरिका में ग्राहकों के लिए जा रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here