प्रधानमंत्री मोदी जी ने जताई नाराजगी लोग घरों से बाहर निकलने से नहीं आ रहे बाज

0
9

चीन से फैला कोरोना वायरस अब पूरी दुनिया में कहर मचा रहा है। कोरोना वायरस से फैले कोविड-19 महामारी का अब तक कोई इलाज सामने नहीं आया है, यही वजह है कि इससे बचने के लिए सभी देश लॉकडाउन का ऐलान कर अपने नागरिकों को घरों में रहने की बार-बार अपील कर रहे हैं। भारत में भी कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए भारत के करीब 30 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को लॉकडाउन कर दिया गया है। केंद्र और राज्य सरकारें कोरोना से अपने नागरिकों को बचाने के लिए लॉकडाउन को सख्ती से पालन करने के भी निर्देश दिए हैं, मगर अब भी एक बड़ी आबादी है जो इसे गंभीरता से नहीं ले रही है। पीएम मोदी भी इस पर नाराजगी जता चुके हैं और स्पष्ट कह चुके हैं कि आम जनता को कोरोना से बचाने के लिए ही उन्हें घरों में रहने को कहा जा रहा है। 

दरअसल, देश में खतरनाक कोरोना वायरस से अब तक 9 लोगों की मौत के बाद 30 राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के 548 जिलों में सोमवार की शाम पूरी तरह लॉकडाउन की घोषणा की गई। भारत में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है और अब तक इसके पॉजिटिव मरीजों की संख्या करीब 500 हो गई है। कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा भवायव न हो, इसलिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। सरकार, पुलिस प्रशासन लगातार लोगों को घरों में रहने की अपील कर रही है, मगर ऐसे कई वीडियो और तस्वीरें आ रही हैं, जिसमें लॉकडाउन और कर्फ्यू जैसे हालात के बीच भी लोग सड़कों पर घूमते नजर आ रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी जी ने जताई नाराजगी

सरकार ने एक तरह से कुछ हिस्सों को छोड़कर पूरे देश में लॉकडाउन का ऐलान कर दिया है ताकि कोरोना के खिलाफ जंग में भारतवासी की जीत हो, मगर कुछ जगहों पर देखने को मिल रहा है कि लोग घरों से निकल रहे हैं। जबकि सरकार स्पष्ट कर चुकी है कि इमरजेंसी सेवाओं और आवश्यक सेवाओं के लिए ही लोग घरों से बाहर निकल सकते हैं और भी लॉकडाउन का सख्ती से पालन करते हुए। मगर अब भी लोग कोरोना के खतरे को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। ऐसे हालात को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नाराजगी व्यक्त की है। पीएम मोदी ने सोमवार को ट्वीट करके कहा था कि लॉकडाउन को अभी भी कई लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। कृपया करके अपने आप को बचाएं, अपने परिवार को बचाएं, निर्देशों का गंभीरता से पालन करें। राज्य सरकारों से मेरा अनुरोध है कि वे नियमों और कानूनों का पालन करवाएं।

इन 30 राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में पूरी तरह लॉकडाउन
जिन 30 राज्यों को पूरी तरह लॉकडाउन किया गया है वो हैं- चंडीगढ़, दिल्ली, गोवा, जम्मू कश्मीर, नागालैंड, राजस्थान, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल, लद्दाख, झारखंड, अरूणाचल प्रदेश, बिहार, त्रिपुरा, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, मेघालय, मणिपुर, तमिलनाडु, केरल, हरियाणा, दमन दीव और दादर नगर हवेली, पुचुच्चेरी, अंडमान निकोबार, गुजरात, कर्नाटक और असम।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here