खाड़ी में तनाव का असर: कच्चे तेल में दो फीसद की उछाल, पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने की आशंका

0
68

खाड़ी क्षेत्र में तनाव के कारण अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोमवार को कच्चे तेल के दाम में दो फीसदी से ज्यादा का उछाल आया। ईरान द्वारा ब्रिटिश टैंकर को जब्त किए जाने की घटना के बाद खाड़ी क्षेत्र में तनाव बढ़ने से कच्चे तेल में तेजी का सिलसिला लगतार तीसरे दिन जारी रहा। हालांकि घरेलू तेल विपणन कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल के दाम में कोई बदलाव नहीं किया है।

कच्चा तेल सोमवार को 63.69 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच गया। हालांकि दिल्ली, कोलकता, मुंबई और चेन्नई में सोमवार को पेट्रोल के दाम पूर्ववत क्रमश: 73.35 रुपये, 75.77 रुपये, 78.96 रुपये और 76.18 रुपये प्रति लीटर बने रहे। चारों महानगरों में डीजल के दाम भी पूर्ववत क्रमश: 66.24 रुपये, 68.31 रुपये और 69.43 रुपये और 69.96 रुपये प्रति लीटर बने हुए हैं। डीजल के दाम में लगातार 10 दिनों से स्थिरता बनी हुई और पेट्रोल में लगातार चौथे दिन कोई बदलाव नहीं हुआ है।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतों में आई तेजी से भारतीय वायदा बाजार में भी कच्चे तेल के भाव में तकरीबन 2.5 फीसदी का उछाल आया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (एमसीएक्स) पर कच्चे तेल के अगस्त वायदा अनुबंध में अपराह्न 15.35 बजे 93 रुपये यानी 2.43 फीसदी की तेजी के साथ 3,921 रुपये प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले भाव 3,943 रुपये प्रति बैरल तक उछला।

उधर, अंतरराष्ट्रीय वायदा बाजार इंटरकॉनटिनेंटल एक्सचेंज (आईसीई) पर ब्रेंट क्रूड के सितंबर वायदा अनुबंध में 2.11 फीसदी की तेजी के साथ 63.79 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले ब्रेंट क्रूड का भाव 64.०2 डॉलर प्रति बैरल तक उछला। वहीं, न्यूयार्क मर्केंटाइल एक्सचेंज पर अमेरिकी लाइट क्रूड वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (डब्ल्यूटीआई) के अगस्त डिलीवरी अनुबंध में 1.78 फीसदी की तेजी के साथ 56.62 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले डब्ल्यूटीआई का भाव 57.02 डॉलर प्रति बैरल तक उछला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here